गुरुवार, 12 फ़रवरी 2009



वेलेंटाइन म्यूजिक:
भोपाल के सिद्धार्थ को करें वोट
यदि भोपालवासियों का साथ रहा तो वेलेंटाइन डे पर भोपाल के युवा संगीतकार सिद्धांत पाराशर का म्यूजिक नेशनल लेवल पर धूम मचाएगा। दरअसल सिद्धांत का चयन वेलेंटाइन म्यूजिक के लिए आयोजित नेशनल लेवल कांटेस्ट रिदम वेलेंटाइन के फाइनालिस्ट में हुआ है। अब कांटेस्ट के विजेता का चयन 13 फरवरी को ऑन लाइन वोटिंग के आधार पर किया जाएगा, जिसका रिजल्ट 14 फरवरी को घोषित होगा।
रिदम वेलेंटाइन कंपोजर को मंच देने वाला अपनी तरह का अनूठा कांपिटिशन है, जिसमें ऑन लाइन म्यूजिक के आधार पर विजेता का चयन किया जाता है। सिद्धार्थ का चयन इसके अंतिम 16 प्रतिभागियों में हुआ है। चयन का आधार इस प्रतियोगिता के लिए पूरे देश से लगभग 100 इंट्रीज आई थीं। इनमें से पहले चरण में 30 प्रतिभागियों की कंपोजिशन का चयन किया। इसके बाद ऑन लाईन प्रसिद्धि के आधार पर अंतिम 16 प्रतिभागियों का चयन हुआ, जिसमें सिद्धार्थ का सांग ना तड़पाओ शामिल है। अब अंतिम विजेता का चयन जजेस च्वाइज और वोटिंग के आधार पर होगा।
इस प्रतियोगिता के जज सॉरी भाई और एतबार जैसी फिल्मों के म्यूजिक डायरेक्टर गौरव दयाल हैं।
सिद्धार्थ के बारे में
सहारा ग्रुप की रैटिंग में टॉप 2 रैटिंग के साथ-साथ यंगेस्ट म्यूजिक कंपोजर का खिताब जीत चुके सिद्धार्थ बचपन से म्यूजिक कंपोज कर रहे हैं। मात्र 12 साल की उम्र में जतिन पंडित के निर्देशन में सिद्धार्थ का म्यूजिक एलबम लांच हुआ था। ख्यात सिंगर कविता कृष्णमूर्ति ने भी सिद्धार्थ की कंपोजिशन को आवाज दी है। उस वक्त सिद्धार्थ केवल 14 साल के थे। पिछले साल हुए मप्र बालरंग की इंट्रोडक्शन धुन भी सिद्धार्थ ने तैयार की है।
ऐसे करें वोट
सिद्धार्थ को इस प्रतियोगिता का विजेता बनाने के लिए http://www.tempostand.com/rv/ पर ऑनलाइन वोट किया जा सकता है। इस एड्रेस पर क्लिक करते ही टॉप फाइनलिस्ट की कंपोजिशन आ जाती हैं, इनमें से ना तड़पाओ को सिलेक्ट कर ऑनलाइन वोट किया जा सकता है। वोटिंग लाइन 13 फरवरी रात 12 बजे तक खुली हैं।


1 टिप्पणी:

रंजन ने कहा…

शुभकामनाऐं.